अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था का भारत पर क्या प्रभाव पड़ा?

अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था

अंग्रेजों ने भारत में अपनी राजनीतिक सत्ता स्थापित करने के बाद भारत में अपनी नई शिक्षा व्यवस्था लागू करना शुरू कर दिया. इस नई शिक्षा व्यवस्था का भारतीय शिक्षा व्यवस्था पर बहुत बुरा असर डाला, वहीं दूसरी ओर इस शिक्षा व्यवस्था से भारतीय नई और आधुनिक शिक्षा प्रणाली से अवगत हुए.

अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था का भारत पर क्या प्रभाव पड़ा?

अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था का भारत पर प्रभाव

1. गुरुकुलों का पतन

अंग्रेजी सरकार के द्वारा नई शिक्षा व्यवस्था के लागू करने के बाद भारतीय शिक्षा पर भी बहुत बुरा प्रभाव पड़ा. नई शिक्षा व्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए ब्रिटिश सरकार ने भारतीय शिक्षा के केंद्र रहे गुरुकुलों पर प्रतिबन्ध लगा दिया. इससे धीरे-धीरे गुरुकुलों का पतन होना शुरू हो गया. गुरुकुलों के पतन होने के साथ ही प्राचीन भारतीय शिक्षा व्यवस्था का भी पतन हो गया. इसके स्थान पर अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था ने ले लिया.

अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था का भारत पर क्या प्रभाव पड़ा?

2. पश्चिमी शिक्षा पर अधिक बल

1835 ई. में ब्रिटिश सरकार ने शिक्षा के लिए नई शिक्षा व्यवस्था को अनिवार्य कर दिया. इस कारण भारतीय शिक्षा पद्धति धीरे-धीरे खत्म होती चली गई और भारत में अंग्रेजी शिक्षा का प्रभाव बढ़ता चला गया. मैकाले ने अपने विवरण पत्र में प्राचीन भारतीय शिक्षा पद्धति तथा साहित्य का बहुत मजाक उड़ाया. इस प्रकार धीरे-धीरे पारंपरिक भारतीय शिक्षा प्रणाली का स्थान आधुनिक प्रणाली ने ले लिया. ब्रिटिश भारत में निरक्षरता दर 1911 में 94% थी और 1921 में घटकर 92% हो गई.

अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था का भारत पर क्या प्रभाव पड़ा?

3. यूरोपीय साहित्य और विज्ञान का प्रोत्साहन

नई शिक्षा नीति के लागू होने का सबसे बड़ा फायदा ये हुआ कि अब भारतीय छात्र यूरोपीय साहित्यों का अध्ययन करने लगे और वे देश-विदेश के नवीन तकनीकों से अवगत होने लगे. आधुनिक शिक्षा व्यवस्था के लागू होने से भारत में विज्ञान को बहुत प्रोत्साहन मिला. इससे देश में नई-नई तकनीकों का आविष्कार होने लगा. विभिन्न प्रकार की मशीने, उपकरणों आदि का निर्माण और आधुनिक वैज्ञानिक खोजें होने लगी. इन अविष्कारों से मानव जीवन पहले से आसान होने लगा. इसके अलावा अंग्रेजी भाषा का प्रभाव बढ़ता चला गया. आधुनिक शिक्षा व्यवस्था तहत प्राथमिक शिक्षा का माध्यम क्षेत्रीय भाषा को, माध्यमिक शिक्षा हेतु एंग्लो-वर्नाकुलर (अर्द्ध-अंग्रेज़ी) भाषा तथा उच्च शिक्षा हेतु अंग्रेज़ी को माध्यम बनाया गया. नयी शिक्षा नीति के द्वारा पहली बार महिलाओं की शिक्षा के लिए प्रयास किया.

अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था का भारत पर क्या प्रभाव पड़ा?

4. विश्वविद्यालयों की स्थापना

आधुनिक शिक्षा व्यवस्था का प्रभाव पूरे देश में फैलना शुरू हो गया. बड़ी संख्या में छात्र शिक्षा ग्रहण करने पर प्रेरित हुए. इस कारण पूरे देश में बड़े पैमाने पर विद्यालओं और विश्वविद्यालओं की स्थापना की जाने लगी. इससे शिक्षा का दायरा तेजी से फैलता चला गया. आधुनिक शिक्षा प्रणाली के कारण अब भारतीय छात्रों की पहुँच देश-विदेशों तक होने लगे. भारतीय छात्र पढ़ने के लिए विदेशों तक भी जाने लगे. अंग्रेजी शिक्षा का स्तर भारत में बढ़ता चला गया. 

अंग्रेजों की नई शिक्षा व्यवस्था का भारत पर क्या प्रभाव पड़ा?

आधुनिक शिक्षा व्यवस्था के कारण भारत के गुरुकुल शिक्षा व्यवस्था का पतन हुआ वहीं भारतीय छात्र आधुनिक और नवीन शिक्षा प्रणाली से अवगत भी हुए, हालांकि ये बात भी सत्य है कि इस आधुनिक शिक्षा व्यवस्था अंग्रेजों के राज्य के शासन सम्बन्धी हितों को ध्यान में रखकर बनाया गया था लेकिन भारतीय छात्रों को भी इसका बहुत फायदा मिला.

इन्हें भी पढ़ें:

Note:- इतिहास से सम्बंधित प्रश्नों के उत्तर नहीं मिल रहे हैं तो कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट करें. आपके प्रश्नों के उत्तर यथासंभव उपलब्ध कराने की कोशिश की जाएगी.

अगर आपको हमारे वेबसाइट से कोई फायदा पहुँच रहा हो तो कृपया कमेंट और अपने दोस्तों को शेयर करके हमारा हौसला बढ़ाएं ताकि हम और अधिक आपके लिए काम कर सकें.  

धन्यवाद.

Leave a Comment

Telegram
WhatsApp
FbMessenger
error: Please don\'t copy the content.